Wednesday, October 4, 2023
Home बिज़नेस Edible oil की कीमतें अब नीचे आने की उम्‍मीद एडब्ल्यूएल ने जताई

Edible oil की कीमतें अब नीचे आने की उम्‍मीद एडब्ल्यूएल ने जताई

नई दिल्‍ली: खाने के तेल यानि Edible oil की कीमतें अब और ऊपर नहीं जाएंगी। मस्‍टर्ड ऑयल और सोयाबीन ऑयल की कीमत धीरे-धीरे पहले के स्‍तर पर आ जाएंगी। हाल में खाद्य तेल कंपनियों ने अपने-अपने ब्रांड के Edible oil में 10 से 15 फीसदी तक कमी की है। इनके और नीचे आने की उम्‍मीद है। खाद्य तेल कंपनी अडानी विल्मर लिमिटेड (एडब्ल्यूएल) ने यह उम्‍मीद जताई है।

कंपनी के सीईओ अंगशू मलिक ने बताया कि खाने के तेल की कीमतें 2 साल में काफी बढ़ गई हैं। इनमें अब नरमी आने की उम्‍मीद है। उन्‍होंने कहा कि लोकल स्‍तर पर प्रोडक्‍शन बढ़ रहा है। बीते 5 साल में मस्‍टर्ड और सोयाबीन फसल का उत्‍पादन भी बढ़ा है। हालांकि भारत अब भी अपनी जरूरत का बड़ा हिस्‍सा आयात करता है।

सोयाबीन प्रोसेसर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सोपा) की रिपोर्ट के मुताबिक मौजूदा वित्त वर्ष के शुरुआती नौ महीनों में खाद्य तेलों के आयात पर देश का खर्च 75 प्रतिशत के उछाल के साथ 1,04,354 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है। सोपा के चेयरमैन डेविश जैन के मुताबिक पिछले कारोबारी साल 2020-21 के दौरान अप्रैल से दिसंबर के बीच देश ने खाद्य तेल आयात पर 59,543 करोड़ रुपये खर्च किए थे।

अडानी विल्मर ने अपने 3,600 करोड़ रुपये के आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) के लिए शुक्रवार को मूल्य दायरा 218-230 रुपये प्रति शेयर तय कर दिया है। अडानी एंटरप्राइजेज ने शुक्रवार को बताया कि कंपनी का आईपीओ 27 जनवरी को अभिदान के लिए खुलेगा और 31 जनवरी को बंद होगा। एंकर निवेशकों के लिए बोली 25 जनवरी को खुलेगी।

अडानी विल्मर दरअसल अडानी समूह और सिंगापुर स्थित विल्मर समूह के बीच 50:50 का संयुक्त उद्यम है। फॉर्च्यून ब्रांड के तहत खाना पकाने के तेल और कुछ अन्य खाद्य उत्पाद बेचने वाली अडानी विल्मर ने अपने आईपीओ का आकार घटाकर 3,600 रुपये कर दिया है, जो पहले 4,500 करोड़ रुपये का था। आईपीओ से मिलने वाले मुनाफे का इस्तेमाल पूंजीगत खर्च, कर्ज अदायगी और रणनीतिक अधिग्रहण एवं निवेश के लिए किया जाएगा।

RELATED ARTICLES

भारत के महावाणिज्य दूत ने कहा, ‘400 से अधिक भारतीय कंपनियों ने वियतनाम में किया है निवेश’

वियतनाम के हो ची मिन्ह शहर में भारत के महावाणिज्य दूत मदन मोहन सेठी ने भारत और वियतनाम के बीच सौहार्दपूर्ण और मैत्रीपूर्ण संबंधों...

पिछले चार माह में 30 फीसदी महंगा हुआ कच्चा तेल

पिछले चार माह में कच्चे तेल की कीमतें 30 फीसदी बढ़ चुकी हैं। इससे पेट्रोल और डीजल की महंगी कीमतों से जल्द राहत मिलने के...

त्योहारी सीजन में आरबीआई दरें नहीं बढ़ाता है तो होम लोन सस्ता कर सकते है बैंक

आप मकान खरीदने की योजना बना रहे हैं, तो एक बार फिर भारतीय रिजर्व बैंक आपकी राहत जारी रख सकता है। आरबीआई इस हफ्ते...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Trending NEWS

देहरादून में आयोजित होगा 6वां वैश्विक आपदा प्रबंधन सम्मलेन- सीएम पुष्कर सिंह धामी

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रेस वार्ता करते हुए कहा 6वें वैश्विक आपदा प्रबंधन सम्मलेन देहरादून में आयोजित होगा, इस सम्मेलन के माध्यम...

कैबिनेट मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल ने राज्य योजना के अंतर्गत हरिद्वार रोड पर नाली एवं फुटपाथ निर्माण कार्य का स्थलीय किया निरीक्षण

देहरादून: कैबिनेट मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल ने राज्य योजना के अंतर्गत हरिद्वार रोड पर आराघर से रिस्पना पुल तक मार्ग में ऐज से ऐज...

आंखों की रोशनी जा सकती है ज्यादा मोबाइल के इस्तेमाल से

क्या आप भी मोबाइल फोन से दिनभर चिपके रहते हैं? अगर हां, तो आपको सावधान हो जाने की जरूरत है, ये आपके आंखों की...

क्रिकेटर ऋषभ पंत ने किए बदरीनाथ धाम के दर्शन

पहले ऋषभ पंत बदरीनाथ धाम के दर्शन के लिए गए। वहां तीर्थ पुरोहितों ने उनका स्वागत किया और पूजा अर्चना कराई। इसके बाद अब...

साउथ अभिनेता प्रभास ने सीधे शाहरुख खान से टकराने का किया फैसला, हिला बॉलीवुड

Salaar Vs Dunki: एक ही साल में हजार, हजार करोड़ रुपये से ज्यादा कमाने वाली दो वर्ल्डवाइड हिट फिल्में देने वाले ‘बॉक्स ऑफिस के...