Monday, September 26, 2022
Home उत्तराखंड उत्तराखंड की मांग, चुनाव की तिथि बदले निर्वाचन आयोग

उत्तराखंड की मांग, चुनाव की तिथि बदले निर्वाचन आयोग

उत्तराखंड: पंजाब में मतदान की तारीख बढ़ाने के साथ उत्तराखंड में चुनाव तिथि में बदलाव की मांग उठ रही है। विभिन्न संगठनों की ओर से आयोग से उत्तराखंड की भौगोलिक परिस्थिति और पलायन को देखते हुए मतदान के लिए रविवार का दिन और मार्च के पहले सप्ताह में तिथि तय करने का आग्रह किया गया है। जानकारों का मानना है कि उत्तराखंड में मतदान के लिए 6 मार्च का दिन उपयुक्त हो सकता है।

चुनाव आयोग ने उत्तराखंड में मतदान के लिए 14 फरवरी का दिन तय किया है। इस दिन सोमवार है। जानकारों के मुताबिक फरवरी महीने में प्रदेश के चमोली, पिथौरागढ़, उत्तरकाशी समेत कई जिलों के ऊंचाई क्षेत्रों में मौसम खराब होने से बर्फबारी की संभावना रहती है। जिससे पोलिंग पार्टियों को बूथ तक पहुंचने के साथ लोगों को वोट डालने के लिए बूथ पहुंचने में दिक्कत रही है। साथ ही 14 फरवरी को सोमवार है। जिससे दिल्ली समेत अन्य राज्यों में नौकरी पेशा वाले उत्तराखंड प्रवासियों को वोट डालने के लिए आना संभव नहीं होगा। यदि मतदान के लिए रविवार का दिन और मार्च के पहले सप्ताह में मतदान की तारीख तय होती है तो इससे मत प्रतिशत बढ़ सकता है। साथ ही लोगों को वोट देने के लिए मौसम और कोरोना संक्रमण जैसे चुनौतियां का सामना नहीं करना पड़ेगा।

तारीख में बदलाव करने पर विचार किया जाए
चुनाव की तारीख बदलने को लेकर लगातार मांग उठ रही है। इस सम्बन्ध में लोगो ने अपनी राय दी।

 अनूप नौटियाल, अध्यक्ष सोशल डेवलपमेंट फॉर कम्युनिटी फाउंडेशन:- हम चुनाव आयोग से अपील करते हैं कि पंजाब चुनाव की तिथि बदलने के बाद उत्तराखंड चुनाव की तारीख में बदलाव करने पर विचार किया जाए। प्रदेश में पलायन के चलते बड़ी संख्या में उत्तराखंड के लोग दूसरे राज्यों में रहते हैं। चुुनाव में शत प्रतिशत लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए मतदान की तिथि रविवार को होनी चाहिए। जिससे दूसरे राज्यों में रहने वाले उत्तराखंड के प्रवासी भी मतदान के लिए पहुंच सके। सोमवार की जगह रविवार को मतदान की तारीख तय होती है तो प्रदेश में ज्यादा मतदान प्रतिशत बढ़ सकता है।

पद्मश्री कल्याण सिंह रावत, पर्यावरणविद्:- उत्तराखंड के पर्वतीय क्षेत्रों में फरवरी दूसरे सप्ताह तक मौसम खराब रहता है। चमोली, पिथौरागढ़, उत्तरकाशी जिलों के कई दुर्गम गांव बर्फ से ढके रहते हैं। ऐसे में पोलिंग पार्टियों को मतदान केंद्रों तक पहुंचने और लोगों को मत देने के लिए बूथ तक पहुंचने में परेशानी हो सकती है। मौसम को देखते हुए प्रदेश में मतदान की तिथि मार्च पहले सप्ताह में निर्धारित की जाती है तो ज्यादा अच्छा होता। –

राजेंद्र बहुगुणा पूर्व अध्यक्ष उत्तराखंड जूनियर हाईस्कूल शिक्षक संघ:- प्रदेश की भौगोलिक परिस्थिति विकट है। फरवरी महीने तक कई दुर्गम क्षेत्रों में बर्फबारी का मौसम रहता है। पंजाब में जिस तरह से चुनाव आयोग ने मतदान की तिथि बढ़ाई है। उसी तरह उत्तराखंड में विशेष परिस्थिति को देखते हुए मतदान की तिथि में बदलाव कर मार्च पहले सप्ताह में करना चाहिए। –

RELATED ARTICLES

Rajasthan Congress: राजस्थान कांग्रेस पर संकट, 90+ टीम गहलोत के विधायकों ने दी इस्तीफे की धमकी, इस बड़ी कहानी के शीर्ष 10 बिंदु

जयपुर: राजस्थान के अगले मुख्यमंत्री का सवाल कांग्रेस के लिए संकट में बदल गया है। अशोक गहलोत खेमे के 90 से अधिक विधायक विरोध...

लक्ष्मण झूला क्षेत्र में एक व्यक्ति नदी में बहा, SDRF ने किया शव बरामद

ऋषिकेश: लक्ष्मण झूला क्षेत्र में नदी में एक व्यक्ति डूब गया, जिसके शव बरामद को लेकर थाना लक्ष्मण झूला द्वारा SDRF टीम को सूचित कराया...

अंकिता भंडारी के अंतिम संस्कार को लेकर चल रहा संसार मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद, पंचतत्व में विलीन हुई अंकिता

देहरादून: अंकिता भंडारी के अंतिम संस्कार को लेकर चल रहा संसार मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद दूर हो गया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

सबसे लोकप्रिय

Rajasthan Congress: राजस्थान कांग्रेस पर संकट, 90+ टीम गहलोत के विधायकों ने दी इस्तीफे की धमकी, इस बड़ी कहानी के शीर्ष 10 बिंदु

जयपुर: राजस्थान के अगले मुख्यमंत्री का सवाल कांग्रेस के लिए संकट में बदल गया है। अशोक गहलोत खेमे के 90 से अधिक विधायक विरोध...

लक्ष्मण झूला क्षेत्र में एक व्यक्ति नदी में बहा, SDRF ने किया शव बरामद

ऋषिकेश: लक्ष्मण झूला क्षेत्र में नदी में एक व्यक्ति डूब गया, जिसके शव बरामद को लेकर थाना लक्ष्मण झूला द्वारा SDRF टीम को सूचित कराया...

अंकिता भंडारी के अंतिम संस्कार को लेकर चल रहा संसार मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद, पंचतत्व में विलीन हुई अंकिता

देहरादून: अंकिता भंडारी के अंतिम संस्कार को लेकर चल रहा संसार मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद दूर हो गया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी...

Navratri: कल से शुरु हो रहे शारदीय नवरात्र, जानिए कब है कलश स्थापना का शुभ मुहुर्त

देहरादून: शारदीय नवरात्र कल से शुरू हो जाएंगे। 26 सितंबर को सुबह छह बजकर 20 मिनट से 10 बजे तक का समय कलश स्थापना...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात में किया एलान, शहीद भगत सिंह के नाम पर रखा जाएगा चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम

पंजाब: चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम शहीद भगत सिंह के नाम पर रखा जाएगा। यह एलान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात...

Shri Mahant Indresh Hospital: एक महिला ने इंद्रेश अस्पताल पर लगाया किडनी निकालने का आरोप

देहरादून:  श्री महंत इंद्रेश अस्पताल में एक महिला पैर की गंभीर चोट की सर्जरी के लिए पहुंची थी। लेकिन जब वह ओटी से बाहर...

Ankita murder case: सूबत मिटाने की अफवाहें मत फैलाइये- बुल्डोजर चलाने से पहले ही पुलिस ने छान मारा था पूरा रिजार्ट, वीडियोग्राफी के...

देहरादून: अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश के शव विच्छेदन गृह में अंकिता भंडारी के शव का शनिवार को करीब पांच घंटे तक पोस्टमार्टम चला।...

Ankita Murder Case: नहीं हुआ अंकिता का अंतिम संस्कार, दुबारा पोस्टमार्टम कराने की जिद्द पर अड़े परिजन

श्रीनगर गढ़वाल: यमकेश्वर प्रखंड के अंतर्गत गंगा भोगपुर में स्थित रिसॉर्ट में कार्यरत रिसेप्शनिस्ट अंकिता भंडारी को आज रविवार को नम आंखों से विदाई...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर ताबड़तोड़ कारवाई, नैनीताल में 5 रिज़ॉर्ट सील

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देशों पर उत्तराखंड में विभिन्न गेस्ट हाउस और रिज़ॉर्ट पर प्रशासन की ताबड़तोड़ कार्रवाई शुरू हो गई है।...

देश में पहली बार समंदर के नीचे दौड़ेगी बुलेट ट्रेन

मुंबई: मुंबई में देश का पहला अंडर वाटर सी टनल बनने जा रहा है। यानी समुद्र के नीचे सुरंग बनाई जाएगी और उसके अंदर...