Monday, September 26, 2022
Home अंतर्राष्ट्रीय ऑन्टैरियो में इमरजेंसी की घोषणा करनी पड़ी, वजह है ट्रकों की हड़ताल।

ऑन्टैरियो में इमरजेंसी की घोषणा करनी पड़ी, वजह है ट्रकों की हड़ताल।

ऑन्टैरियो: कोरोना महामारी के दौर में कनाडा और अमेरिका इन दिनों एक नए संकट का सामना कर रहे हैं, वजह है ट्रकों की हड़ताल। सैंकड़ों ट्रकों ने ऑन्टैरियो के विंडसर में एंबैसडर ब्रिज को ठप किया हुआ है। यहां से न कोई सामान अमेरिका जा पा रहा है और न आ रहा है। जरूरी चीजों की किल्लत हो गई है। कनाडाई पीएम की अपील भी बेअसर हो रही है। ऑन्टैरियो से लेकर राजधानी ओटावा तक प्रदर्शन हो रहे हैं। 50 हजार से ज्यादा प्रदर्शनकारी ओटावा में डटे हुए हैं। वे पीएम जस्टिन ट्रूडो के इस्तीफे पर अड़े हैं। हालत ये हैं कि ऑन्टैरियो में इमरजेंसी की घोषणा करनी पड़ी है और कोर्ट को दखल देना पड़ा है।

ट्रकों की इस हड़ताल की वजह है कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडे का एक आदेश। जानकारी के लिए बता दें कि पिछले महीने जारी इस आदेश में कहा गया है कि अमेरिका से आने वाले उन्हीं ट्रक चालकों को कनाडा में एंट्री दी जाएगी। जिन्होंने कोरोना की वैक्सीन लगवा रखी होगी, वरना उन्हें क्वारंटीन होना पड़ेगा। ट्रक चालकों के संगठन इस आदेश का विरोध कर रहे हैं। धीरे-धीरे शुरू हुए इस विरोध ने विशाल रूप ले लिया है। चालकों ने एंबैसडर ब्रिज पर 400 से ज्यादा ट्रक खड़े कर रखे हैं। इसकी वजह से सामान की आवाजाही पूरी तरह ठप है। जरूरी चीजों की किल्लत होने लगी है। रोजाना करोड़ों का नुकसान हो रहा है। कनाडा और अमेरिका के बीच कुल व्यापार का करीब एक-तिहाई इसी ब्रिज के जरिए होता है।

मीडिया रिपोर्ट बताती है कि इस पुल से हर रोज 323 मिलियन डॉलर (2440 करोड़ रुपये) का सामान आता-जाता है। 10 हजार से ज्यादा कमर्शल गाडिय़ों की आवाजाही होती है, लेकिन पिछले दो हफ्ते से सब ठप है। हालात ऐसे हो गए हैं कि कनाडाई पीएम को अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन को फोन करके हालात की जानकारी देनी पड़ी है। दोनों देश इस संकट का समाधान निकालने में जुटे हुए हैं। प्रदर्शनकारी कनाडाई पीएम ट्रूडो के इस्तीफे की मांग कर रहे हैं। वो पीएम के उस बयान से नाराज हैं, जिसमें उन्होंने प्रदर्शनकारियों को मुठीभर चिल्लाने वाले लोग’ और ‘स्वास्तिक लहराने वाले’ करार दिया था। इससे न केवल विपक्षी दल बल्कि खुद उनकी लिबरल पार्टी के सांसद भी भडक़ गए हैं।

कनाडा में ट्रक चालकों ने हड़ताल के दौरान अपनी बात मनवाने के लिए अनोखा तरीका भी आजमाया। 11 दिनों तक उन्होंने लगातार 16 घंटे तक ट्रकों को हॉर्न बजाए। हड़तालियों को मनाने की हर कोशिश नाकाम हो रही है। कोई रास्ता न देख ऑन्टैरियो के मेयर ने शुक्रवार को शहर में इमरजेंसी का ऐलान कर दिया। उनका कहना है कि ये प्रोटेस्ट नहीं रह गया है, लोगों ने अवैध कब्जा जमा लिया है। इसके कुछ ही घंटे बाद अदालत ने आदेश जारी करके हड़तालियों से इलाके को खाली करने को कहा है। अनिवार्य कोरोना वैक्सीनेशन के खिलाफ ट्रक चालकों की इस हड़ताल का असर सिर्फ कनाडा तक सीमित नहीं है। ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और फ्रांस में भी इसी तरह के प्रदर्शन शुरू हो गए हैं। वहां भी लोग वैक्सीन के खिलाफ सडक़ों पर उतर रहे हैं।

RELATED ARTICLES

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की चेतावनी से दुनियाभर में खलबली, न्यूक्लियर वॉर( nuclear war) का खतरा मंडराया

वॉशिंगटन: रूस और यूक्रेन के बीच पिछले 7 महीने से जंग जारी है। इसी बीच रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने दो दिन में...

China-Taiwan War: चीनी हमले में अमेरिका ताइवान की रक्षा करेगा : बाइडेन

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने फिर कहा है कि चीन के हमले करने की स्थिति में अमेरिका ताइवान की रक्षा करेगा। बाइडेन से...

बाइडेन ने पुतिन को रासायनिक या परमाणु हथियारों के इस्तेमाल के खिलाफ दी चेतावनी

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन को यूक्रेन के साथ चल रहे युद्ध में रासायनिक या सामरिक परमाणु हथियारों...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

सबसे लोकप्रिय

सहसपुर में नदी पर बने टापू पर फंसे कुछ लोग, SDRF ने बचाई जान

देहरादून: सहसपुर में नदी पर बने टापू पर कुछ लोग फंस गए, जिसकी सूचना आपदा कंट्रोल रूम देहरादून द्वारा SDRF को दी गई, सूचना...

Ankita murder case: : हर एंगल से होगी जांच, फास्ट ट्रैक कोर्ट में होगी सुनवाई : सीएम धामी

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि अंकिता हत्याकांड में सभी आरोपियों पर सख्त से सख्त कारवाई होगी। उन्होंने प्रदेश की जनता से...

प्रदेश में कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने के साथ ही प्रदेश में माहौल खराब करने वाले तत्वों पर रखी जाये कड़ी नजर: CM धामी

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रदेश में कानून एवं व्यवस्था से सम्बन्धित घटनाओं को गम्भीरता से लेने के निर्देश जिलाधिकारियों को दिये हैं।...

Rajasthan Congress: राजस्थान कांग्रेस पर संकट, 90+ टीम गहलोत के विधायकों ने दी इस्तीफे की धमकी, इस बड़ी कहानी के शीर्ष 10 बिंदु

जयपुर: राजस्थान के अगले मुख्यमंत्री का सवाल कांग्रेस के लिए संकट में बदल गया है। अशोक गहलोत खेमे के 90 से अधिक विधायक विरोध...

लक्ष्मण झूला क्षेत्र में एक व्यक्ति नदी में बहा, SDRF ने किया शव बरामद

ऋषिकेश: लक्ष्मण झूला क्षेत्र में नदी में एक व्यक्ति डूब गया, जिसके शव बरामद को लेकर थाना लक्ष्मण झूला द्वारा SDRF टीम को सूचित कराया...

अंकिता भंडारी के अंतिम संस्कार को लेकर चल रहा संसार मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद, पंचतत्व में विलीन हुई अंकिता

देहरादून: अंकिता भंडारी के अंतिम संस्कार को लेकर चल रहा संसार मुख्यमंत्री के आश्वासन के बाद दूर हो गया है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी...

Navratri: कल से शुरु हो रहे शारदीय नवरात्र, जानिए कब है कलश स्थापना का शुभ मुहुर्त

देहरादून: शारदीय नवरात्र कल से शुरू हो जाएंगे। 26 सितंबर को सुबह छह बजकर 20 मिनट से 10 बजे तक का समय कलश स्थापना...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात में किया एलान, शहीद भगत सिंह के नाम पर रखा जाएगा चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम

पंजाब: चंडीगढ़ एयरपोर्ट का नाम शहीद भगत सिंह के नाम पर रखा जाएगा। यह एलान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मन की बात...

Shri Mahant Indresh Hospital: एक महिला ने इंद्रेश अस्पताल पर लगाया किडनी निकालने का आरोप

देहरादून:  श्री महंत इंद्रेश अस्पताल में एक महिला पैर की गंभीर चोट की सर्जरी के लिए पहुंची थी। लेकिन जब वह ओटी से बाहर...

Ankita murder case: सूबत मिटाने की अफवाहें मत फैलाइये- बुल्डोजर चलाने से पहले ही पुलिस ने छान मारा था पूरा रिजार्ट, वीडियोग्राफी के...

देहरादून: अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश के शव विच्छेदन गृह में अंकिता भंडारी के शव का शनिवार को करीब पांच घंटे तक पोस्टमार्टम चला।...