Friday, December 9, 2022
Home ब्लॉग दिल का दौरा( रोगलक्षण, कारण, नियंत्रण, रोकथाम)- व्यक्ति इसे रोक सकता है

दिल का दौरा( रोगलक्षण, कारण, नियंत्रण, रोकथाम)- व्यक्ति इसे रोक सकता है

दिल का दौरा- व्यक्ति इसे रोक सकता है

क्या आप जानते हैं कि :

दिल का दौरा पूरे विश्व में लोगो का प्रमुख हत्यारा है भारत जैसे विकासशील देशों में दिल के दौरों की संख्या बढ़ती ही जा रही है इसका जीता जागता उदाहरण चारधाम यात्रा में आयें तीर्थयात्री की मृत्यु के आकलन हमे बता रहे हैं की यह की कितनी गंभीर समस्या बनती जा रही है प्रत्येक 10 में से लगभग 5 मरीजों की मृत्यु दिल के दौरों से होती है इनमे से अधिकांश कि मृत्यु, उन तक चिकित्सा सहातया पहुंचने से पहले, एक घंटे के अंदर हो जाती है ऐसा अनुमान लगाया गया है कि केवल भारत में ही प्रतिवर्ष कम से कम 30 लाख लोगो की मृत्यु हृदय रोगो से होती है

दिल का दौरा क्या है?

ठीक ढंग से काम करने के लिए, हृदय की मांशपेशियों को आक्सीजन और अनिवार्य पोशक तत्वों की आवश्यकता पड़ती है जो इसे हृदय के बाहरी हिस्से पर स्थित हृद-धमनी के मुख्य भाग कोरोनरी आर्टरी द्वारा सप्लाई किए जाते हैतीन बड़े कोरोनरी आर्टरीज होती हैं जिनमें से प्रत्येक की बहुत सी छोटी-छोटी शाखाएं होती हैं जानवरों की चर्बियों, तेलों, अंडे की पीले भाग और अनेक भोजनों में पाए जाने वाले कोलेस्ट्रोल के जमा होने के कारण यह आर्टरीज संकुचित हो जाती हैं यदि कोरोनरी आर्टरीज में से एक आर्टरी कोलेस्ट्रोल के कारण पूरी तरह बंद हो जाती है तो हृदय की मांशपेशी के एक भाग को रक्त की सप्लाई नहीं मिलती और वह भाग आक्सीजन से वंचित रह जाता है तथा यह भाग मृत हो जाता है इससे दिल का दौरा पद जाता है

चेतावनी के रोगलक्षण

सीने में दर्द: दिल का दौरे का दर्द आमतौर पर बहुत तेज होता है और सीने के मध्य में होता है और यह दर्द बाईं बाजू, बाएं जबड़े या दाएं बाजू और यहां तक कि अधिजठर (epigastric) या पीठ में भी फैल सकता है यह दर्द 15 से 30 मिनट तक रह सकता है कभी-कभी, दर्द बिल्कुल नहीं होता और सीने में बेचैनी के दबाव की अनुभूति होती है कभी-कभी गैस या पेट फूलने की अनुभूति होती है

चिन्ता:

  • मृत्यु के सन्निकट होने का दर
  • पसीना आना
  • उबकाई या उल्टी
  • साँसे लेने में कठिनाई
  • असामान्य वाट या गैस की समस्या
  • मूच्छी और बेहोशी आना

दिल का दौरा किस कारण से पड़ता है ?

उच्च रक्तचाप

उच्च रक्तचाप, हृदय पर और शरीर के अन्य अंगों का रक्त सप्लाई करने वाली आर्टरीज पर अतिरिक्त दबाव डालता है। हृदय को, आर्टरीज में जमाव द्वारा होने वाले बड़े हुये प्रतिरोध के विरुद्ध काम करना पड़ता है। अधिकांश लोगो को उच्च रक्तचाप की जानकारी नहीं होती क्योंकि इसमें कोई असामान्य रोगलक्षण नहीं होते। 

उच्च कोलेस्ट्रोल

रक्त में कोलेस्ट्रोल के उच्च स्तर वाले व्यक्तियों को हृदय रोग होने कि संभावना अधिक रहती है रक्त में कोलेस्ट्रोल का उच्च स्तर उन लोगो में देखा जाता है जो वसा वाला भोजन जैसे मीट, मक्खन, घी, क्रीम, और क्रीम के उत्पाद खाते हैं

धूम्रपान 

सिगरेट या बीड़ी से कुछ घटक हृदय रोग, फेफड़ों का कैंसर, श्वसनी (bronchus) और पेरीफेरल आर्टीरियल रोग ( पि ए डी) हो सकते हैं धूम्रपान करने वाले व्यक्तियों में, दिल के दौरों के कारण होने वाली मृत्यु की दर अधिक है धूम्रपान की आदत वाले व्यक्तियों को दिल का दौरा पड़ने का खतरा अधिक होता है

मधुमेह मेलीटस

मधुमेह वाले व्यक्तियों को हृदय रोग का खतरा अधिक होता है गंभीर मधुमेह के रोगियों को कम आयु में दिल का दौरा पड़ता है, विशेष रूप से महिलाओं को कुछ अध्ययनों से पता चला है कि जो लोग दिन के अधिकांश समय में बैठकर काम करते हैं जैसे क्लर्क, अधिकारी, ड्राईवर, आदि को उन लोगों कि अपेक्षा अधिक दिल के दौरे अधिक पड़ते है जिनके व्यवसाय में शारीरिक काम करने की आवश्यकता पड़ती है जैसे किसान, मजदूर, कंडक्टर आदि नियमित शारीरिक व्यायाम हृदय रोगो का खतरा कम कर देता है और व्यक्ति को स्वस्थ रखता है हम लोगों को प्रतिदिन शारीरिक व्यायाम को अपनी दिनचर्या में रखना ही चाहिए

मोटापा

कोरोनरी आर्टरी रोग या आघात होने के लिए मोटापा, खतरे के कारकों में से एक है साथ में उच्च रक्तचाप होने से यह खतरा और बढ़ जाता है। वसा वाले भोजन, बहुत अधिक शर्करा या मदिरा का इस्तेमाल न करके नियमित शारीरिक व्यायाम करके इस खतरे से बचा जा सकता है।

दबाव और मानसिक तनाव 

दबाव, मानसिक तनाव और हृदय रोग में गहरा संबंध है। जो लोग बहुत अधिक चिंता करते हैं और जो लोग हमेशा जल्दी में रहते हैं, उन्हे उन लोगों कीअपेक्षा अधिक उच्च रक्तचाप और दिल के दौरे पड़ते हैं, जो आराम से जीवन बिताने वाले और निश्चिंत रहते हैं। हम लोगो को कभी भी दबाव, मानसिक तनाव नहीं लेना चाहिए एक ही जीवन मिलता है खुशी-खुशी व्यतीत करना चाहिए। दबाव, मानसिक तनाव से कभी भी कोई हल नहीं निकलता परंतु लेने से हृदय रोगी जरूर बना देता है। 

आयु

दिल के दौरे आमतौर पर 50-55 साल की आयु के लोगो को पड़ते हैं परंतु दिल का दौरा 30-35 साल की आयु में भी पढ़ सकता है हालांकि यह असामान्य है।

पुरुष-महिला

90 प्रतिशत दिल के दौरे पुरुषों केपी पड़ते हैं। महिलाओं को दिल के दौरे का खतरा उस समय बढ़ जाता है। जब वे बूढ़ी हो जाती हैं।

तुरंत नियंत्रण

  • व्यक्ति को आराम से लेटा दें उस व्यक्ति को स्वयं कुछ नहीं करना चाहिए क्योंकि काम करने से हृदय को और अधिक क्षति पहुंच सकती है
  • यदि व्यक्ति सांस नहीं ले पा है तो उसका सिर ऊपर उठाने के लिए कुछ तकियों का इस्तेमाल करें
  • उसके कपड़े ढीले कर दें और व्यक्ति को आश्वस्त करें।
  • यह सुनिश्चित करें कि व्यक्ति होश में है या बेहोश।
  • यदि बेहोश है तो व्यक्ति को यथाशीघ्र अस्पताल ले जाएं।

रोकथाम

व्यक्ति दिल के दौरे के खतरे को काफी हद तक कम कर सकता है यदि वह निम्नलिखित  पाँच स्वर्ण नियमों का पालन करें :-

  1. संतुलित खुराक लें, संतृप्त फैट जैसे घी, मक्खन, आदि आदिक मात्रा में खाने और अधिक फैट वाले अन्य भोजन खाने से बचें।
  2. धूम्रपान से बचें।
  3. नियमित रूप से शारीरिक व्यायाम करें।
  4. दबाव और तनाव से बचें।
  5. नियमित रूप से चिकित्सा जांच कराएं।
RELATED ARTICLES

मध्यप्रदेश ने जलाई हिंदी की मशाल

वेद प्रताप वैदिक केरल, तेलंगाना और तमिलनाडु के क्रमश: मुख्यमंत्री, मंत्री और नेताओं ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग की है कि उनके प्रदेशों पर...

Karva Chauth 2022: पति की लंबी उम्र के लिए करवाचौथ पर किस तरह से करें पूजा, व क्या है पूजा का शुभ मुहुर्त? जानिए...

Karva Chauth 2022: करवाचौथ का व्रत हर साल सुहागिनें अपने पति (husband) की लंबी उम्र (live long) के लिए रखती है, वहीं इस साल...

चीते की तरह तेजी से दौड़ेगा भारत

पीयूष गोयल भारत को अगले 25 साल में समृद्ध और विकसित देश बनाने के सपने को साकार करने के लिए मोदी सरकार ऐतिहासिक कदम उठा...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

सबसे लोकप्रिय

हरिद्वार में खेल मंत्री रेखा आर्या ने किया जिला स्तरीय खेल महाकुंभ का शुभारंभ

हरिद्वार: आज प्रदेश की खेल एवं युवा कल्याण मंत्री रेखा आर्या ने हरिद्वार के रोशनाबाद स्थित स्टेडियम में जिला स्तरीय खेल महाकुंभ-2022 का विधिवत...

श्रीनगर गढ़वाल में मरीजों के लिए देवदूत से कम नहीं है डॉ लोकेश सलूजा

श्रीनगर गढ़वाल: पौड़ी गढ़वाल के श्रीनगर में स्थित महिला राजकीय संयुक्त उपजिला चिकित्सालय के डॉक्टरों की टीम अपनी कार्यशैली को लेकर आजकल चर्चाओं में...

दो दिवसीय दौरे पर देहरादून पहुंचीं राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू

देहरादून: राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू आज बृहस्पतिवार को दो दिवसीय प्रवास पर देहरादून पहुंच गई हैं। उनके आगमन के दौरान सुरक्षा के कड़े प्रबंध  किए...

हिमाचल में कांग्रेस बहुमत की ओर, मुरझा रहा कमल

हिमाचल प्रदेश: विधानसभा चुनाव में इस बार बड़ा उलटफेर होता दिखाई दे रहा है। यहां मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है।...

गुजरात में अपना ही रिकॉर्ड तोड़ रही भाजपा, चुनाव में भाजपा निकली बहुमत से आगे

गुजरात: गुजरात की 182 विधानसभा सीटों पर हुए चुनाव के लिए वोटों की गिनती जारी है। शुरुआती रुझानों में भाजपा जहां बहुमत से काफी...

विदेश दौरे पर गए सतपाल महाराज के किए फर्जी सिग्नेचर, कैबिनेट मंत्री के निजी सचिव के खिलाफ मुकदमा दर्ज

देहरादून: कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज के निजी सचिव आईपी सिंह और पीडब्ल्यूडी के विभागाध्यक्ष अयाज अहमद के खिलाफ डालनवाला थाने में मुकदमा दर्ज किया...

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ ने तीन और अन्य अभियुक्तों के विरूद्ध गैंग चार्ट बनाकर जिलाधिकारी को भेजी रिपोर्ट, जिलाधिकारी ने किया अनुमोदन

देहरादून: यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल द्वारा बताया गया कि अब तक 21 लोगों के विरूद्ध गैंगस्टर एक्ट...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विधानसभा क्षेत्र राजपुर के अन्तर्गत विभिन्न विकास योजनाओं का किया शिलान्यास एवं लोकार्पण

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को इन्दिरा मार्केट, देहरादून के निकट विधानसभा क्षेत्र राजपुर के अन्तर्गत विभिन्न विकास योजनाओं का शिलान्यास एवं...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने डी.आई.टी कॉलेज में आयोजित उच्च शिक्षा चिंतन शिविर के कार्यक्रम में किया प्रतिभाग

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने बुधवार को डी.आई.टी कॉलेज, देहरादून में आयोजित उच्च शिक्षा चिंतन शिविर के अंतर्गत राज्य स्तरीय नैक प्रत्यायन कार्यशाला...

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग द्वारा कल से जारी किया जाएगा पुलिस कांस्टेबल भर्ती के एडमिट कार्ड

देहरादून:- प्रदेश में पुलिस कांस्टेबल के 1521 पदों पर भर्ती की परीक्षा के लिए उत्तराखंड लोक सेवा आयोग आठ दिसंबर को एडमिट कार्ड जारी...