Monday, October 3, 2022
Home अंतर्राष्ट्रीय सबसे बड़ा और सबसे बहुमुखी में से एक 'हबल स्पेस टेलीस्कॉप' ने अब तक का सबसे दूर...

सबसे बड़ा और सबसे बहुमुखी में से एक ‘हबल स्पेस टेलीस्कॉप’ ने अब तक का सबसे दूर स्थित तारे की खोज की

पेरिस: हबल स्पेस टेलीस्कॉप ने अब तक का सबसे दूर का व्यक्तिगत तारा खोजा है, जिसके प्रकाश को पृथ्वी तक पहुंचने के लिए 12.9 अरब वर्ष की लगेगा। यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी (ईएसए) ने यह जानकारी दी है। ईएसए ने बुधवार को एक बयान में कहा, नासा / ईएसए हबल स्पेस टेलीस्कोप ने एक असाधारण नया बेंचमार्क स्थापित किया है। बिग बैंग (6.2 की रेडशिफ्ट पर) में ब्रह्मांड के जन्म के बाद अरब वर्षों से मौजूद एक तारे के प्रकाश का पता लगाया, जो अब तक का सबसे दूर का व्यक्तिगत तारा है।

हबल स्पेस टेलीस्कॉप (एचएसटी) नासा और ईएसए की संयुक्त परियोजना है और दुनिया की सबसे बड़ी अंतरिक्ष दूरबीनों में से एक है जिसे 1990 में पृथ्वी की कक्षा में लॉन्च किया गया था और ये वही पर रह कर ये हमारे ब्रम्हांड पर नजर रखे रहता है। यद्यपि पहली अंतरिक्ष टेलीस्कॉप नहीं है, लेकिन हबल सबसे बड़ा और सबसे बहुमुखी, और एक महत्वपूर्ण अनुसंधान उपकरण और खगोल विज्ञान के लिए जनसंपर्क वरदान दोनों के रूप में जाना जाता है। HST को खगोल विज्ञानी एडविन हबल के नाम पर रखा गया है, और यह कॉम्प्टन गामा रे ऑब्ज़र्वेटरी, चन्द्रा एक्स-रे ऑब्ज़र्वेटरी और स्पिट्जर स्पेस टेलीस्कॉप के साथ नासा की ग्रेट ऑब्जर्वेटरीज में से एक है।

हबल टेलीस्कोप 

एक स्पेस टेलीस्कोप है जिसे 24 अप्रैल 1990 को पृथ्वी की निचली कक्षा में लॉन्च किया गया था। यह पहला अंतरिक्ष टेलिस्कोप नहीं था, परन्तु यह सबसे बड़ा और सबसे बहुमुखी में से एक है, जो एक महत्वपूर्ण शोध उपकरण और खगोल विज्ञान के लिए जनसंपर्क वरदान दोनों के रूप में प्रसिद्ध है। हबल टेलीस्कोप का नाम खगोलशास्त्री एडविन हबल के नाम पर रखा गया है और यह नासा की महान वेधशालाओं में से एक है, साथ ही कॉम्पटन गामा रे ऑब्जर्वेटरी (1991–2000), चंद्र एक्स-रे ऑब्जर्वेटरी (1999-वर्तमान), और स्पिट्जर स्पेस टेलीस्कोप (2003–2020)। स्पेस टेलीस्कोप साइंस इंस्टीट्यूट (STScI) हबल के लक्ष्यों का चयन करता है और परिणामी डेटा को संसाधित करता है, जबकि गोडार्ड स्पेस फ़्लाइट सेंटर (GSFC) अंतरिक्ष यान को नियंत्रित करता है। हम्बल टेलीस्कोप की खोज एक ऐसी खोज थी, जिसने अंतरिक्ष के कई रहस्यों को उजागर किया। हबल टेलीस्कोप की मदद से हम उन सभी चीजों को दुर्गम रूप से जान सकते हैं जैसे ब्लैक होल, नुबिला आदि।

हबल टेलीस्कोप जीवन

हबल टेलीस्कोप ने हमें दिखाया कि अंतरिक्ष में कई आकाशगंगाएँ हैं। हबल एकमात्र ऐसा टेलीस्कोप है जिसे अंतरिक्ष यात्रियों द्वारा अंतरिक्ष में बनाए रखने के लिए डिज़ाइन किया गया है। पांच अंतरिक्ष शटल मिशनों ने सभी पांच मुख्य उपकरणों सहित दूरबीन पर सिस्टम की मरम्मत, उन्नयन और प्रतिस्थापन किया है। पांचवां मिशन शुरू में कोलंबिया आपदा (2003) के बाद सुरक्षा आधार पर रद्द कर दिया गया था, लेकिन नासा के प्रशासक माइकल डी. ग्रिफिन ने पांचवें सर्विसिंग मिशन को मंजूरी दे दी थी जो 2009 में पूरा हुआ था। टेलिस्कोप ने अप्रैल 2020 में संचालन में 30 साल पूरे किए, 2030 तक चलेगा। हबल टेलीस्कोप का एक उत्तराधिकारी जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कोप (JWST)।

RELATED ARTICLES

रूस के सोशल नेटवर्क को विश्व स्तर पर ऐप स्टोर से हटाया गया

मॉस्को: एप्पल ने वीके के आईओएस ऐप ‘वीकॉन्टैक्टे’ को वैश्विक स्तर पर अपने ऐप स्टोर से हटा दिया है, जो रूस के फेसबुक के...

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की चेतावनी से दुनियाभर में खलबली, न्यूक्लियर वॉर( nuclear war) का खतरा मंडराया

वॉशिंगटन: रूस और यूक्रेन के बीच पिछले 7 महीने से जंग जारी है। इसी बीच रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने दो दिन में...

China-Taiwan War: चीनी हमले में अमेरिका ताइवान की रक्षा करेगा : बाइडेन

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने फिर कहा है कि चीन के हमले करने की स्थिति में अमेरिका ताइवान की रक्षा करेगा। बाइडेन से...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

सबसे लोकप्रिय

बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अनुराग ठाकुर पहुंचे ऊना, आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर की बैठक

हिमाचल प्रदेश: भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा और केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर रविवार को ऊना पहुंचे। नड्डा ने लालसिंगी में भाजपा कार्यालय...

राज्यपाल ने टी.बी. एसोसिएशन ऑफ उत्तराखण्ड के टी.बी. के प्रति जनजागरूकता अभियान ‘‘टी.बी. सील’’ का किया अनावरण

देहरादून:- राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) ने राजभवन में टी.बी. एसोसिएशन ऑफ उत्तराखण्ड के टी.बी. के प्रति जनजागरूकता अभियान ‘‘टी.बी. सील’’ का...

राज्य स्तरीय समान नागरिक संहिता विशेषज्ञ समिति के सदस्यों ने गोपेश्वर मुख्यालय और जनपद रुद्रप्रयाग के अगस्त्यमुनि में लोगों से मिलकर सुने उनके सुझाव

चमोली: जनपद के मुख्यालय गोपेश्वर में जनसामान्य के साथ बैठक का आयोजन महाविद्यालय परिसर में किया गया। इस बैठक में महिलाओं व युवाओं ने...

वरुण धवन और कृति सैनन की भेडिय़ा का टीजर जारी

वरुण धवन और कृति सैनन हॉरर फिल्म भेडिय़ा में जल्द नजर आएंगे। फिल्म 25 नवंबर को बड़े पर्दे पर आएगी। इसका निर्देशन अमर कौशिक...

अवैध स्मैक सहित पकड़ा गया ड्रग सप्लायर मिक्की वारसी

नैनीताल: जनपद नैनीताल पुलिस द्वारा वर्तमान में त्यौहारी सीजन के दौरान बढते अपराधो की रोकथाम व अवैध स्मैकतस्करी के विरूद्ध कोतवाली हल्द्वानी पुलिस व...

तीसरा चुनाव आयुक्त है ही नहीं!

चुनाव आयोग के सामने बहुत बड़ा मामला लंबित है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उसे शिव सेना के बारे में फैसला करना है।...

समान नागरिक संहिता विषेशज्ञ समिति के सदस्यों द्वारा नागरिकों का पक्ष सुनने के लिए क्षेत्र में निर्धारित किया गया भ्रमण का कार्यक्रम

चमोली: राज्य स्तरीय समान नागरिक संहिता विषेशज्ञ समिति के सदस्यों द्वारा नागरिकों का पक्ष सुनने के लिए क्षेत्र में भ्रमण का कार्यक्रम निर्धारित किया...

PWD चीफ एयाज अहमद ने लगाई अधिकारियों की क्लास, तय समय में पूरा हो उत्तराखंड की सड़कों को गड्ढामुक्त करने का अभियान

देहरादून: उत्तराखंड में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश पर शासन लगातार सड़कों को गड्ढा मुक्त करने के लिए दिशा निर्देश जारी कर रहा...

उत्तराखंड में बेसहारा, घायल गायों व गोवंशों के लिए देवदूत हैं शादाब अली

देहरादून: सूचना विभाग में कार्यरत सुरेश भट्ट जी द्वारा फोन पर सूचना मिलते ही भारतीय गौरक्षा वाहिनी के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व...

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में आयोजित की गयी प्रधानमंत्री पन्द्रह सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन के लिए राज्य स्तरीय समिति की बैठक

देहरादून: मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु की अध्यक्षता में सचिवालय में प्रधानमंत्री जनविकास कार्यक्रम योजना के प्रस्तावों पर अनुमोदन हेतु प्रधानमंत्री पन्द्रह सूत्रीय कार्यक्रम...