Tuesday, November 29, 2022
Home उत्तराखंड मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में वन्यजीव बोर्ड की 17 वींं बैठक की गई आयोजित

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में वन्यजीव बोर्ड की 17 वींं बैठक की गई आयोजित

देहरादून:- मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में सचिवालय स्थित विश्वकर्मा भवन के वीर चंद्र सिंह गढवाली सभागार में उत्तराखण्ड राज्य वन्यजीव बोर्ड की 17 वींं बैठक आयोजित की गई। काफी लम्बे समय से बोर्ड की बैठक न होने पर मुख्यमंत्री ने नाराजगी जताते हुए कहा कि बोर्ड की बैठक नियमित तौर पर समय से आयोजित की जाएं। सरलीकरण, समाधान और निस्तारण के मंत्र पर काम करना है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी देश में नया वर्क कल्चर लाए हैं। हमें राज्य में जनहित के उद्देश्य से कार्य संस्कृति में सुधार लाना है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बैठको में स्वागत संबंधी औपचारिकताओं को न करते हुए सीधे बैठक के एजेंडा पर चर्चा की जाए। इससे चर्चा के लिये अधिक समय मिल सकेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि बैठको में केवल बातचीत ही नहीं बल्कि समाधान भी निकले।  मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के विकास में वन विभाग की महत्वपूर्ण भूमिका है। वन संरक्षण, वन्यजीव संरक्षण और प्रकृति संरक्षण बहुत जरूरी है, साथ ही राज्य का विकास भी जरूरी है। हमें इकोलोजी और ईकोनोमी मे समन्वय बनाकर चलना है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में मानव वन्यजीव संघर्ष को रोकने पर प्राथमिकता से काम करना है। खासतौर पर खेती को बंदरों से बचाने के लिये यथासम्भव तकनीक का उपयोग किया जाए। इसका कोई स्थायी समाधान खोजा जाए। हरेला पर्व पर विशेष तौर पर अधिक से अधिक फलदार पेड़ लगाए जाएं। हरेला पर्व केवल वनविभाग तक सीमित न रहे, इसे जन जन का उत्सव बनाना है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य स्तर पर अनुमोदन के बाद जो भी प्रस्ताव केंद्र स्तर पर जाते हैं, उनका लगातार फॉलोअप सुनिश्चित किया जाए। इसके लिये जरूरत होने पर अधिकारी विशेष को नियुक्त किया जा सकता है।
उत्तराखण्ड राज्य वन्यजीव बोर्ड की बैठक में सोनप्रयाग से केदारनाथ धाम के लिये रोपवे, गोविंदघाट से हेमकुण्ट साहिब रोपवे सहित विभिन्न प्रकरणों के वन भूमि हस्तांतरणों पर विचार विमर्श किया गया। यह भी निर्णय लिया गया कि मानव-वन्यजीव संघर्ष शमन उत्कृष्टता केंद्र और वन्यजीव स्वास्थ्य उत्कृष्टता केंद्र की प्रदेश में स्थापना की जाएगी। स्थानीय समुदायों के सहयोग से प्राइमरी रेस्पोंस टीमों का गठन किया जाएगा जो कि वन व वन्य जीव संरक्षण के साथ ही वनाग्नि को रोकने पर भी काम करेंगी। टाईगर रिजर्व, संरक्षित क्षेत्र व अन्य पर्यटन वन क्षेत्रों में पर्यटकों के बरताव के संबंध में गाईडलाईन बनाई जाएगी। मुख्यमंत्री ने इसमें सभी स्टेकहोल्डर्स की सलाह लेने के निर्देश दिये।

बैठक में वन मंत्री सुबोध उनियाल, विधायक रेणु बिष्ट, अनिल नौटियाल, मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधु, अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी, पीसीसीएफ विनोद कुमार सिंघल, प्रमुख सचिव आरके सुधांशु, एल फैनई, सचिव दिलीप जावलकर, चीफ वाइल्ड लाइफ वार्डन डॉ पराग मधुकर धकाते सहित उत्तराखण्ड राज्य वन्यजीव बोर्ड के सदस्य उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES

उत्तराखंड में अब बेरोजगार युवाओं को घर बैठे मिलेगी नौकरी, उपनल और पीआरडी दफ्तरों के नहीं काटने होंगे चक्कर

देहरादून:- उत्तराखंड में अब सरकारी विभागों में संविदा पर नौकरी के लिए अब युवाओं को दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। उन्हें सेवायोजन आउटसोर्सिंग...

धामी सरकार की अनूठी पहल, स्कूली छात्र भी नए बिजनेस आइडिया से बन सकेंगे उद्यमी, जल्द कैबिनेट में आयेगा नीति का प्रस्ताव

देहरादून: उत्तराखंड में स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने 2018 में स्टार्टअप नीति लागू की थी। इस नीति में तकनीकी शिक्षण संस्थानों...

उत्तराखंड में अगर आप अपना वोट बनवाना चाहते हैं तो तैयार हो जाएं, 3 और 4 दिसंबर को आपके नजदीकी बूथ पर मिलेंगे बीएलओ

देहरादून: उत्तराखंड में रहते हैं और अभी तक आपने अपना वोटर आईडी कार्ड नहीं बनाया है तो तैयार हो जायें। एक बार फिर इसको...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

सबसे लोकप्रिय

उत्तराखंड में अब बेरोजगार युवाओं को घर बैठे मिलेगी नौकरी, उपनल और पीआरडी दफ्तरों के नहीं काटने होंगे चक्कर

देहरादून:- उत्तराखंड में अब सरकारी विभागों में संविदा पर नौकरी के लिए अब युवाओं को दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। उन्हें सेवायोजन आउटसोर्सिंग...

धामी सरकार की अनूठी पहल, स्कूली छात्र भी नए बिजनेस आइडिया से बन सकेंगे उद्यमी, जल्द कैबिनेट में आयेगा नीति का प्रस्ताव

देहरादून: उत्तराखंड में स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने 2018 में स्टार्टअप नीति लागू की थी। इस नीति में तकनीकी शिक्षण संस्थानों...

उत्तराखंड में अगर आप अपना वोट बनवाना चाहते हैं तो तैयार हो जाएं, 3 और 4 दिसंबर को आपके नजदीकी बूथ पर मिलेंगे बीएलओ

देहरादून: उत्तराखंड में रहते हैं और अभी तक आपने अपना वोटर आईडी कार्ड नहीं बनाया है तो तैयार हो जायें। एक बार फिर इसको...

किसान को अच्छी पैदावार और गुणवत्ता युक्त पौध उपलब्ध कराया जाय-मंत्री जोशी

देहरादून: कृषि एवं उद्यान मंत्री गणेश जोशी ने सोमवार को सचिवालय स्थित एफआरडीसी सभागार में उद्यान विभाग के अधिकारियों के साथ एक सप्ताह पूर्व...

विभागीय मंत्री के अनुमोदन के बाद शासन ने जारी किया शासनादेश, पर्वतीय जनपदों में मेडिकल फैकल्टी को मिलेगा 50 प्रतिशत अतिरिक्त भत्ता

देहरादून: राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों में स्थापित राजकीय मेडिकल कॉलेजों में अब नियमित एवं संविदा पर तैनात फैकल्टी को वेतन के अतिरिक्त 50 प्रतिशत...

29.11.2022 से प्रस्तावित “विधानसभा सत्र” के दौरान देहरादून शहर का यातायात प्लान निम्नवत रहेगा

देहरादून: विधानसभा-सत्र के दौरान धरना प्रदर्शन आदि के दृष्टिगत यातायात / कानून व्यवस्था बनाये रखने हेतु देहरादून के निम्न स्थलों पर बैरियर प्वाईंट निर्धारित...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में हुई जनसभाओं को सुनने को उमड़ रही भीड़

देहरादून: हिमाचल विधानसभा चुनाव की तरह ही दिल्ली नगर निकाय चुनाव में भी धामी-धामी हो रहा है। दिल्ली दंगल में देवभूमि के सीएम को...

गुरुकुल विश्वविद्यालय में तैनात प्रोफेसर को साइबर ठगों ने बनाया निशाना, खाते से उड़ाए लाखों रुपये

देहरादून: गुरुकुल विश्वविद्यालय में तैनात प्रोफेसर को साइबर ठगों ने निशाना बनाते हुए खाते से रकम साफ कर दी। बिजली का कनेक्शन और बिल...

उड़ान योजना के अगले टेंडर में शामिल की जाएगी गौचर व चिन्यालीसौङ की हवाई सेवा

चमोली: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को नई दिल्ली में केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया से भेंट कर उत्तराखण्ड में हवाई सेवाओं...

अकेले पुष्कर पर ही निशाना क्यों..? धामी ने नई लकीर खींचकर विधानसभा में बैकडोर एंट्री पर लगवाया प्रभावी अंकुश

देहरादून: उत्तराखंड विधानसभा में तदर्थ भर्ती को विचलन से मंजूरी कोई 2022 में पहली बार नहीं दी गई। राज्य के लगभग हर सीएम के...