Wednesday, September 28, 2022
Home ब्लॉग गुरुग्राम स्थित 18 मंजिला चिंटल्स पैराडिसो सोसायटी, हादसों के आशियाने

गुरुग्राम स्थित 18 मंजिला चिंटल्स पैराडिसो सोसायटी, हादसों के आशियाने

गुरुग्राम में एक बहुमंजिला इमारत में दोषपूर्ण निर्माण तकनीक व घटिया सामग्री के चलते जन-धन की जो क्षति हुई है, उसने ऐसी इमारतों में रहने वाले लोगों को भय से भर दिया। घटना ने बहुमंजिला इमारतों का निर्माण करने वाले बिल्डरों की साख को सवालों के घेरे में ला खड़ा किया है। गुरुग्राम स्थित 18 मंजिला चिंटल्स पैराडिसो सोसायटी की छठी मंजिल की बैठक की छत ऐसी गिरी कि उसका वजन नीचे की मंजिलें सहन नहीं कर पायीं। वे एक-एक करके गिरती चली गईं, जिसमें जानमाल का नुकसान हुआ। कई घर मलबे में तब्दील हो गये और कई क्षतिग्रस्त हो गये। स्वप्निल लोक के आकर्षक विज्ञापनों से खरीददारों को ललचाने वाले बिल्डरों की हकीकत इस हादसे में बेनकाब हो गई। निश्चित रूप से जीवन की जमा पूंजी व बैंकों आदि से लोन लेकर सुकून के लिये आशियाना खरीदने वाले लोग अब भयभीत होंगे। निर्माण की गुणवत्ता ने उनके मन में आशंका भर दी है कि कहीं भविष्य में किसी हादसे की पुनरावृत्ति न हो जाये।

निस्संदेह निर्माण सामग्री की गुणवत्ता का संदेह उन्हें परेशान करता है। हकीकत भी है कि जिन विभागों के पास इन बहुमंजिला इमारतों के निर्माण सामग्री व डिजाइन की गुणवत्ता परखने की जिम्मेदारी है, वे आपराधिक चुप्पी ओढक़र खामोश हो जाते हैं। अक्सर इन बहुमंजिला फ्लैटों में घर के खरीददार मकान में दरार आने, संरचना में खोट या पाइप लीक होने जैसी शिकायतें करते रहते हैं। अब हादसे के बाद चिंटल्स पैराडिसो के बिल्डर को गिरफ्तार किया गया है। काश! इस मामले में तब कार्रवाई की गई होती जब कुछ महीने पहले इमारत में रहने वाले लोगों ने एक बालकनी के एक हिस्से के टूटने की शिकायत की थी। बिल्डर ने नये सिरे से गुणवत्ता की खामियों पर समय रहते ध्यान दिया होता तो शायद यह हादसा टाला जा सकता था।

इस हादसे के बाद तमाम ऐसी बहुमंजिला इमारतों में रहने वाले लोगों की नींद उड़ गई होगी। अब उनकी आकांक्षा होगी कि उनके टावरों की सभी संरचनाओं की गुणवत्ता की सख्ती से जांच की जाये। साथ ही इन निर्माण कार्यों से जुड़ी नियामक संस्थाओं की जवाबदेही बनती है कि सभी आवासीय व वाणिज्यिक इमारतों में संरचना गुणवत्ता की नये सिरे से जांच की जाये। इसके अलावा खरीददारों की जान जोखिम में डालने वाले बिल्डरों के लिये सख्त दंड का भी प्रावधान हो। निस्संदेह यह मुनाफाखोर बिल्डरों व संदिग्ध अधिकारियों की मिलीभगत उजागर होने का पहला मामला नहीं है। अतीत में यदि सख्त दंड की नजीर पेश की गई होती तो ऐसे हादसे दुबारा नहीं होते। हादसे के बाद कुछ समय तक मामले के गर्म रहने के बाद प्रकरण को ठंडे बस्ते में डालने की पुनरावृत्ति भी नहीं होनी चाहिए। हालांकि, हरियाणा सरकार ने मामले की जांच की बात कही है, लेकिन जांच को तार्किक परिणति तक पहुंचाने की भी जरूरत है।

सवाल यह भी है कि बहुमंजिला भवनों के निर्माण में गुणवत्ता की जांच करने वाले महकमों की जिम्मेदारी कैसे तय की जाये ताकि भवनों के डिजाइन, तकनीक व निर्माण सामग्री मानकों पर खरे उतर सकें। साथ ही बहुमंजिला रिहायशी इमारतों के नक्शे पास करने, मंजिलों के निर्धारण, निर्माण सामग्री व सुरक्षा से जुड़े तमाम पहलुओं के राष्ट्रीय मानकों को सख्त बनाने की जरूरत भी है। राष्ट्रीय राजधानी व अन्य महानगरों में बहुमंजिला इमारत बनाने वाली चिंटल्स पैराडिसो के गुणवत्ता मानकों का ये आलम है तो शेष देश में निर्माण कार्य की गुणवत्ता की क्या हालत होगी, सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। उपभोक्ता संगठन भी सजग हों ताकि चमकीले विज्ञापनों में दर्शायी खूबियों के बजाय निर्माण की गुणवत्ता की परख हो। साथ ही कायदे-कानून ताक पर रखने वाले बिल्डरों की अनदेखी करने वाले जवाबदेह अधिकारियों पर भी शिकंजा कसने की जरूरत है। आखिर कब तक काहिल तंत्र लोगों की जान जोखिम में डालकर बिल्डरों को मनमानी की छूट देता रहेगा।

RELATED ARTICLES

Sarvapitri Amavasya: सर्वपितृ अमावस्या कब है? क्या है इस दिन का महत्व व कैसे करें सर्वपितृ अमावस्या का श्राद्ध, जानिए

पितृ पक्ष 10 सितंबर से शुरु हो चुके है, जो कि 25 सितंबर तक चलेंगे, यानि पितृ पक्ष का अंतिम दिन 25 सितंबर को...

Navratri: हम उपवास के दौरान प्याज और लहसुन से परहेज क्यों करते हैं?||Why we avoid onions and garlic during fast?||कारण ( reason)

Navratri: शारदीय नवरात्र आगामी 26 सितंबर से शुरु होने वाले है, हिंदु धर्म में शारदीय नवरात्र का विशेष महत्व होता है। इन दिनों माता...

टूटा हुआ शीशा क्या जुड़ सकता है?

हरिशंकर व्यास देश क्या होता है, इसे भक्त नहीं समझ सकते हैं। इतिहास और हिंदू का सत्य है कि वह हमेशा अपने आपको भगवान के...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

सबसे लोकप्रिय

उत्तराखंड को मिला बेस्ट टूरिज्म डेस्टिनेशन अवार्ड, पर्यटन के सर्वांगीण विकास के लिए भी प्रदेश को प्रथम पुरस्कार

नई दिल्ली:- विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर उत्तराखंड राज्य को पर्यटन मंत्रालय भारत सरकार द्वारा बेस्ट एडवेंचर टूरिज्म डेस्टिनेशन और पर्यटन के सर्वांगीण...

अंकिता हत्याकांड को लेकर पटवारी वैभव प्रताप को किया गया सस्पेंड

देहरादून:- अंकिता हत्याकांड को लेकर पटवारी वैभव प्रताप को सस्पेंड कर दिया गया है। डीएम पौड़ी ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं। बताया...

उत्तराखंड में पर्यटन ने पकड़ी रफ्तार, चारधाम यात्रा में उमड़ा श्रद्धालुओं का सैलाब

देहरादून: कोविड महामारी की चुनौतियों को पार कर उत्तराखंड में पर्यटन ने रफ्तार पकड़ी है। कोरोना के कारण दो साल से प्रभावित चारधाम यात्रा...

मुख्य सचिव ने हेमकुंड साहिब और बद्रीनाथ धाम में मास्टर प्लान के तहत संचालित पुनर्निर्माण कार्यो का किया निरीक्षण

चमोली: मुख्य सचिव डॉ. एस.एस. संधू ने मंगलवार को हेमकुंड साहिब और बद्रीनाथ धाम में यात्रा व्यवस्थाओं का जायजा लेने के साथ ही मास्टर...

CM धामी ने मुख्य सेवक सदन में सेवा पखवाड़ा 2022 के तहत ‘स्वच्छता गौरव सम्मान’ कार्यक्रम में स्वच्छता दूतों को किया सम्मानित

देहरादून: मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मुख्यमंत्री आवास स्थित, मुख्य सेवक सदन में सेवा पखवाड़ा 2022 के तहत ‘स्वच्छता गौरव सम्मान’ कार्यक्रम में स्वच्छता...

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने प्रदेश में समूह-ग की 12 और भर्तियों का कैलेंडर किया जारी

देहरादून:  उत्तराखंड लोक सेवा आयोग ने प्रदेश में समूह-ग की 12 और भर्तियों का कैलेंडर जारी कर दिया है। आयोग ने इन भर्तियों के...

अंकिता हत्याकांड में प्रयुक्त पलसर बाइक हुई बरामद

पौड़ी गढ़वाल: अंकिता हत्याकांड में गठित की गई 80 टीम ने घटना से संबंधित साक्ष्य जुटाने शुरू कर दिए हैं जिस के क्रम में...

अंकिता हत्याकांड: जांच पूरी होने तक लक्ष्मण झूला में कैंप करेगी एसआईटी

देहरादून: जनपद पौड़ी गढ़वाल के राजस्व पुलिस क्षेत्र पट्टी उदयपुर पल्ला नम्बर 2, तहसील यमकेश्वर क्षेत्रान्तर्गत रिजॉर्ट में अंकिता भण्डारी की हत्या से सम्बन्धित...

स्वास्थ्य संबंधी सहायता चाहिए तो डायल करें हेल्पलाइन नम्बर 104, विभिन्न मामलों को लेकर प्रतिदिन 5000 कॉल की जा रही दर्ज

देहरादून: सूबे में स्वास्थ्य सेवाओं को आम जनमानस तक पहुंचाने के उद्देश्य से स्वास्थ्य विभाग द्वारा 104 एकीकृत हेल्पलाइन सेवा संचालित की जा रही...

पेशी के दौरान फरार कैदी को चंडीगढ़ से किया गिरफ्तार

अल्मोड़ा: दिनांक 15/09/2022 को कमल सिंह बिष्ट पुत्र भुवन सिंह निवासी ग्राम पदमपुरी पल्ली, पोखरी थाना दन्या तहसील भनोली, जनपद अल्मोड़ा पेशी के दौरान...