Wednesday, November 30, 2022
Home राष्ट्रीय ईरान के विदेश मंत्री के साथ बातचीत में पैगंबर टिप्पणी विवाद का मुद्दा नहीं उठा, ईरान ने...

ईरान के विदेश मंत्री के साथ बातचीत में पैगंबर टिप्पणी विवाद का मुद्दा नहीं उठा, ईरान ने भी वापस लिया बयान

नई दिल्ली: भारत सरकार ने गुरुवार को स्पष्ट करते हुए कहा है कि ईरान के विदेश मंत्री के साथ बातचीत में पैगंबर टिप्पणी विवाद का मुद्दा नहीं उठा। दरअसल इससे पहले ईरान के विदेश मंत्रालय ने दावा किया था कि भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर के साथ बातचीत में पैगंबर के बारे में टिप्पणी को लेकर पैदा हुए विवाद से संबंधित मुद्दा उठा था। हाालंकि अब इस पर भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने बयान दिया है। उन्होंने कहा, मैं समझता हूं कि इस मुद्दे को नहीं उठाया गया। पैगम्बर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी को लेकर अरब देशों में व्यापक आक्रोश के बीच भारत ने बृहस्पतिवार को स्पष्ट रूप से कहा कि ऐसी टिप्पणियां सरकार के रूख को प्रदर्शित नहीं करती हैं।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने बृहस्पतिवार को साप्ताहिक प्रेस वार्ता में कहा, ‘‘हमने पूरी तरह से स्पष्ट कर दिया है कि ऐसे ट्वीट, टिप्पणियां सरकार के रूख को प्रदर्शित नहीं करते हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमारे वार्ताकारों को इसके बारे में बता दिया गया है, साथ ही यह तथ्य है कि ऐसे ट्वीट एवं टिप्पणियां करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। इस बारे में इसके अतिरिक्त मुझे और कुछ नहीं कहना है।’ विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता से भारत की यात्रा पर आए ईरान के विदेश मंत्री हुसैन आमिर अब्दुल्लाहियन की राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के साथ बैठक के दौरान पैगम्बर मोहम्मद के खिलाफ विवादित टिप्पणी का मुद्दा उठाए जाने की रिपोर्ट के बारे में सवाल पूछा गया था। दरअसल इसको लेकर खुद ईरान के बयान में दावा किया गया कि ऐसी टिप्पणियां करने वालों पर अजीत डोभाल की तरफ से कठोर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया गया।

ईरान ने भी वापस लिया बयान

इस पर बागची ने कहा कि उनकी समझ यह है कि जिस बयान का आप जिक्र कर रहे हैं, उसे वापस ले लिया गया है। ईरान के विदेश मंत्रालय की वेबसाइट पर यह दावा करने वाला बयान हटा लिया गया है। पहले के ईरानी बयान में दावा किया गया था कि उसके विदेश मंत्री हुसैन को राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने बताया था कि जो लोग पैगंबर के खिलाफ विवादास्पद टिप्पणी करते हैं, उन्हें सबक सिखाया जाएगा। इस विवादित बयान का अब ईरानी विदेश मंत्रालय की वेबसाइट पर उल्लेख नहीं है। ईरान ने उसे अपनी साइट से हटा लिया है।

भारत की यात्रा पर आए ईरान के विदेश मंत्री हुसैन अमीर अब्दुल्लाहियन ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री एस जयशंकर से मुलाकात की थी। ईरान के विदेश मंत्री की भारत यात्रा ऐसे समय हुई है, जब भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दो पूर्व पदाधिकारियों की पैगंबर मोहम्मद पर की गई विवादास्पद टिप्पणी को लेकर पश्चिम एशिया के देशों द्वारा आक्रोश व्यक्त किया जा रहा है।

RELATED ARTICLES

सात दिवसीय प्रस्तावित सत्र के पहले दिन सरकार ने पेश किया 5 हजार 444 करोड़ का अनुपूरक बजट

देहरादून: विधानसभा का सात दिवसीय शीतकालीन सत्र आज मंगलवार से शुरू हो गया है। सदन की कार्यवाही शुरू होते ही कानून व्यवस्था पर कांग्रेस...

उत्तराखंड में अब बेरोजगार युवाओं को घर बैठे मिलेगी नौकरी, उपनल और पीआरडी दफ्तरों के नहीं काटने होंगे चक्कर

देहरादून:- उत्तराखंड में अब सरकारी विभागों में संविदा पर नौकरी के लिए अब युवाओं को दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। उन्हें सेवायोजन आउटसोर्सिंग...

धामी सरकार की अनूठी पहल, स्कूली छात्र भी नए बिजनेस आइडिया से बन सकेंगे उद्यमी, जल्द कैबिनेट में आयेगा नीति का प्रस्ताव

देहरादून: उत्तराखंड में स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने 2018 में स्टार्टअप नीति लागू की थी। इस नीति में तकनीकी शिक्षण संस्थानों...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

सबसे लोकप्रिय

सात दिवसीय प्रस्तावित सत्र के पहले दिन सरकार ने पेश किया 5 हजार 444 करोड़ का अनुपूरक बजट

देहरादून: विधानसभा का सात दिवसीय शीतकालीन सत्र आज मंगलवार से शुरू हो गया है। सदन की कार्यवाही शुरू होते ही कानून व्यवस्था पर कांग्रेस...

अंतर्राज्यीय कुख्यात गौ–पशु तस्कर सहारनपुर से एसटीएफ ने किया गिरफ्तार

देहरादून:- उत्तराखंड की एसटीएफ लगातार कस रही है गैंगस्टर के इनामी अपराधियों की नकेल,एक और गैंगस्टर को किया गिरफ्तार, कुख्यात इस अपराधी की उत्तराखंड...

हरिद्वार पुलिस के खौफ से, सरेंडर हो रहे इनामी अपराधी, डकैती के मामले में इनामी पोलार्ड का कोर्ट में सरेंडर

हरिद्वार: दिनांक 08/06/2022 को शिवालिक नगर स्थित सुनार की दुकान मे डकैती के संबंध में कोतवाली रानीपुर में मु०अ०सं० 290/2022 धारा 395,506 आईपीसी पंजीकृत...

उत्तराखंड में अब बेरोजगार युवाओं को घर बैठे मिलेगी नौकरी, उपनल और पीआरडी दफ्तरों के नहीं काटने होंगे चक्कर

देहरादून:- उत्तराखंड में अब सरकारी विभागों में संविदा पर नौकरी के लिए अब युवाओं को दफ्तरों के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। उन्हें सेवायोजन आउटसोर्सिंग...

धामी सरकार की अनूठी पहल, स्कूली छात्र भी नए बिजनेस आइडिया से बन सकेंगे उद्यमी, जल्द कैबिनेट में आयेगा नीति का प्रस्ताव

देहरादून: उत्तराखंड में स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने 2018 में स्टार्टअप नीति लागू की थी। इस नीति में तकनीकी शिक्षण संस्थानों...

उत्तराखंड में अगर आप अपना वोट बनवाना चाहते हैं तो तैयार हो जाएं, 3 और 4 दिसंबर को आपके नजदीकी बूथ पर मिलेंगे बीएलओ

देहरादून: उत्तराखंड में रहते हैं और अभी तक आपने अपना वोटर आईडी कार्ड नहीं बनाया है तो तैयार हो जायें। एक बार फिर इसको...

किसान को अच्छी पैदावार और गुणवत्ता युक्त पौध उपलब्ध कराया जाय-मंत्री जोशी

देहरादून: कृषि एवं उद्यान मंत्री गणेश जोशी ने सोमवार को सचिवालय स्थित एफआरडीसी सभागार में उद्यान विभाग के अधिकारियों के साथ एक सप्ताह पूर्व...

विभागीय मंत्री के अनुमोदन के बाद शासन ने जारी किया शासनादेश, पर्वतीय जनपदों में मेडिकल फैकल्टी को मिलेगा 50 प्रतिशत अतिरिक्त भत्ता

देहरादून: राज्य के पर्वतीय क्षेत्रों में स्थापित राजकीय मेडिकल कॉलेजों में अब नियमित एवं संविदा पर तैनात फैकल्टी को वेतन के अतिरिक्त 50 प्रतिशत...

29.11.2022 से प्रस्तावित “विधानसभा सत्र” के दौरान देहरादून शहर का यातायात प्लान निम्नवत रहेगा

देहरादून: विधानसभा-सत्र के दौरान धरना प्रदर्शन आदि के दृष्टिगत यातायात / कानून व्यवस्था बनाये रखने हेतु देहरादून के निम्न स्थलों पर बैरियर प्वाईंट निर्धारित...

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के भाजपा प्रत्याशियों के समर्थन में हुई जनसभाओं को सुनने को उमड़ रही भीड़

देहरादून: हिमाचल विधानसभा चुनाव की तरह ही दिल्ली नगर निकाय चुनाव में भी धामी-धामी हो रहा है। दिल्ली दंगल में देवभूमि के सीएम को...